पूंजी / Capital

भींग जाती है आंखेंजिन्हें दूर जाते देख कर,जरूरी नहीं कि वे अमीरया हमारे अपने ही हों…ये शख़्स होते हैं दिल … More

एक खुली किताब / An Open Book

मैं हूं एक खुली किताबजिसे लोग पढ़ना कमपर फाड़ना ज्यादापसंद करते हैं…मेरी तो ख्वाहिश हैफाड़ने के पहलेवे इसे पढ़ लें…शायद … More