चक्र / Cycle

चक्र रातें बढ़ती हैं तो दिन घटता हैकुछ छूटता है तो कुछ जुड़ता है… कभी कुछ भी समाप्त होता नहीपरिवर्तन … More

तुम्हारी कविताएं / Your Poems

कविताएं लिखने कातुम्हारा अंदाजबिल्कुल ही जुदा है,न कलम की जरूरतऔर न पेंसिल की,दिलों पर शायदऐसे ही लिखी जाती हैंकविताएं… 💜❤️💚💙🤎🧡 … More