हार्ट डिस्क / Heart Disc


अपने अतीत को
कभी जोड़ता था मैं
एक फोटो एलबम में,
जिसे हार्ट डिस्क में भी
संग्रहीत कर लेता था सुरक्षित,
लेकिन मोबाइल में कैमरा क्या आया,
मेरा दिल भी हल्का महसूस करने लगा…


💜💜💜💜💜💜


I used to piece together
my past in a photo album,
that was also stored
in my heart disc,
but with the advent
of camera in mobile,
my heart also feels lighter…


Kaushal Kishore


images: pinterest

26 Comments

  1. जब हम एल्बम में अपनी यादों को जोड़ा करते थे, अब तो हम बिना उंगली किये, हमारे अपने भी मोबाइल को देखकर यादों को तजा नहीं कर सकते हैI
    अब तो कोई चीज़ पर्सनल रही नहीं जब से मोबाइल रिश्तो के बीच आ गया हैI

    Liked by 1 person

    1. बहुत सही कहा दोस्त आपने। पहले हम डायरियां लिखते थे और छुपा कर रखते थे कि कोई न पढ़ पाए। आज हम लिखते हैं और कोई न पढ़े तो बुरा मान जाते हैं। आपके विचारों के लिए बहुत बहुत धन्यवाद।

      Like

    1. जमाने के तराजू को क्यों दोष देना, हमारी खुद की आरजू भी कम दोषी नहीं है। 🙂

      Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s