अहमियत / Importance


जब आँखें भी
लगे मुकरने
अपने वादों से
तो फिर बढ़ जाती है
शब्दों की अहमियत  
अपने आप…


👁️👁️👁️


When the eyes also
start turning away
from their promises,
then the importance
of words increases
automatically…


–Kaushal Kishore

36 Comments

  1. आंखे बहुत धोके देती हैं
    फरेब की देवी जिनमे डूबने का डर
    इनमे वादे तो क्या इरादे भी बेअसर ।
    सर , दिलचस्प पोस्ट
    🤗🌺🌺👌👌👌

    Liked by 1 person

    1. वाह वाह बहुत खूब। अति सुंदर। तभी मैं ने यह पोस्ट लिखा। धन्यवाद आपको 😊💐

      Liked by 1 person

  2. आँखे भावनाओं की अभिव्यक्ति हैं,यह अगर मुकरती हैं तो उनमें अभिव्यक्ति परिलक्षित होती है ।

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s